Sunday, July 21, 2013

हम अपनी रूह तेरे जिस्ममेही छोड आये फराज













हम अपनी रूह तेरे जिस्ममेही छोड आये फराज
तुझे गलेसे लगाना तो इक बहाना था....

No comments:

Post a Comment